Agniveer Recruitment Scheme 2022: अब नेवी में होंगी 20% महिला अग्निवीर, जानें तीनों सेनाओं में अभी तक कितनी हैं महिलाएं?

Agniveer Recruitment Scheme 2022: अब भारतीय नेवी में भी महिला अग्निवीर शामिल की जायेंगी और साथ ही Agniveer के पहले बैच में 20% महिलाएं शामिल होंगी। जानकारी के अनुसार, पहले बैच में 20% महिलाएं शामिल होंगी और साथ ही ये महिलायें नेवी के प्रत्येक ट्रेड और ब्रांच में शामिल होंगी। इसके साथ ही महिला अग्निवीरों को सभी प्रकार के ऑपरेशनल जिम्मेदारी में शामिल किया जाएगा।

अग्निपथ योजना की घोषणा 14 जून को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा किया था। इस योजना के अंतर्गत शामिल होने वाले उम्मीदवारों की उम्र सीमा 17.5 वर्ष से 21 साल तक है और इन युवाओं को केवल 4 साल के लिए तीनों सेनाओं में भर्ती किया जाएगा। 4 साल के बाद इनमें से केवल 25% योग्य अग्निवीरों को ही सेना में शामिल किया जायेगा और बाकी अग्निवीरों को सेवा मुक्त कर दिया जायेगा।

अग्निपथ योजना के तहत इस वर्ष तीनों सेनाओं में तकरीबन 46 हजार योग्य युवाओं को नियुक्त किया जाएगा। इनमें से 40 हजार अग्निवीर थल सेना में भर्ती होंगे और बाकी 6000 अग्निवीर जल सेना और वायु सेना में भर्ती किये जायेंगे। अग्निपथ योजना के तहत अग्निवेरों की भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस साल के अंत तक अग्निवीरों का प्रथम बैच तैयार हो जायेगा।

 उम्मीदवार ध्यान दें कि नौसेना में अग्निवीरों की भर्ती के लिए 1 जुलाई 2022 से Registration प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। उम्मीदवारों के लिए आवेदन विंडो 15 जुलाई से 30 जुलाई 2022 तक खुली रहेगी। इसके अलावा Exam और Physical Test अक्टूबर माह के मध्य में होंगे, और 21 नवंबर 2022 से अग्निवीरों की ट्रेनिंग शुरू हो जाएगी।

Agniveer Recruitment कितने समय की होगी अग्निवीरों की ट्रेनिंग

जैसे कि सभी जानते हैं सेना में केवल 4 साल के लिए ही अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी और इस भर्ती के तहत महिला अग्निवीरों को भी भर्ती किया जाएगा। अग्निपथ योजना के तहत इस वर्ष नौसेना में करीब 3 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। इस भर्ती के तहत 20% यानी लगभग 600 महिला अग्निवीर भी शामिल की जायेंगी।

अग्निपथ योजना के माध्यम से सेना में शामिल होने वालों को अग्निवीर नाम से जाना जायेगा। जानकारी के अनुसार नेवी के पहले बैच में कुल 3000 अग्निवीर होंगे। इन अग्निवीरों को 4 महीने की Basic Training देने के बाद 4 हफ्तों की ट्रेनिंग समंदर में दी जाएगी। उसके बाद अग्निवीरों को स्पेशलाइज्ड ट्रेनिंग दी जाएगी।

Agniveer Recruitment नेवी में भी होंगी महिला अग्निवीर

सभी अग्निवीरों को शुरुआत में 4 महीने की Basic Training दी जाएगी और उसके बाद ही तय किया जा सकता है कि कौन अग्निवीर किस ब्रांच के लिए फिट है और उसी आधार पर ही अग्निवीरों को विभिन्न प्रकार की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। अग्निपथ योजना के चलते पहली बार Indian Navy में सेलर यानी कि जो अब अग्निवीर नाम से जाने जायेंगे, के तौर पर महिलाएं भी शामिल की जाएँगी।

जैसा कि हम जानते हैं, पहले भी नेवी में महिलायें होती थी लेकिन इससे पहले नेवी में महिलाएं केवल ऑफिसर रैंक पर ही होती थी। इसके साथ ही नेवी के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है कि जो नए शिप आएंगे उनमें महिला अग्निवीरों के लिए अलग से सोने की और वॉशरूम की सुविधा भी बनी होगी। इसके अलावा महिलाओं के नेवी में शामिल होने के बाद उन पर इस तरह की रोक नहीं होगी कि वह किस रोल में जाएंगी और किस में नहीं। सभी महिलाओं को उनकी योग्यता के आधार पर जिम्मेदारी सौंपी जाएगी न कि जेंडर के आधार पर।

Leave a Comment

close button