बैंक ग्राहकों के लिए खुशखबरी, दिवाली से पहले खाते में जमा होंगे 5-5 लाख रुपये

Bank News: बैंक ग्राहकों के लिए खुशखबरी है कि जल्द ही उनके खाते में 5-5 लाख रुपये की राशि जमा होने वाली है। ऐसे में जिन ग्राहकों का पैसा इन 17 सहकारी बैंकों में से किसी में भी जमा है तो दिवाली के शुभ अवसर पर उनके बैंक खाते में 5-5 लाख रुपये आने वाले हैं।

जानकारी के अनुसार, जिन ग्राहकों के पैसे इन 17 सहकारी बैंकों में जमा है, उन्हें दिवाली से पहले ही खुशखबरी मिल जाएगी। जानकारी के अनुसार, डिपॉजिट इंश्योरेंस और क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) द्वारा अक्टूबर माह में 17 को-ऑपरेटिव बैंकों के eligible depositors को भुगतान करेगा।

Bank News

इन 17 को-ऑपरेटिव बैंकों में 8 बैंक महाराष्ट्र में, 4 बैंक उत्तर प्रदेश राज्य में, 2 बैंक कर्नाटक में और एक बैंक नई दिल्ली में, 1 बैंक आंध्र प्रदेश और 1 बैंक पश्चिम बंगाल में स्थित हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इन 17 बैंकों की बिगड़ती हुई वित्तीय स्थिति को देखते हुए जुलाई महीने में जमाकर्ताओं पर निकासी सहित कई अन्य प्रतिबंध भी लगाए थे.

दस्तावेजों के साथ करना होगा दावा

जानकारी के लिए बता दें कि DICGC, आरबीआई की ही सब्सिडियरी कंपनी है, जिसके पास पूर्ण स्वामित्व है और यह कम्पनी बैंक जमा पर तकरीबन 5 लाख रुपये तक का बीमा कवर भी मुहैया कराती है। केंद्र सरकार ने DICGC का नियम बैंकों के छोटे ग्राहकों को Banking system पर भरोसा दिलाने के लिए शुरू किया ताकि वे सुरक्षित और गारंटी के साथ अपने खाते में पैसे जमा कराएं। DICGC द्वारा शुरू किए गए जमा बीमा में सभी Commercial bank शामिल किये गए हैं। इन बैंकों में स्थानीय क्षेत्र के बैंक तथा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक के अलावा सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सहकारी बैंक भी शामिल किये गए हैं।

इन 17 Bank ग्राहकों के खाते में जमा होंगे रुपये

DICGC ने जानकारी दी कि सभी पात्र जमाकर्ताओं को पहचान के वैध दस्तावेजों के माध्यम से अपने दावा करना होगा। जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र के Co-operative बैंकों में साहेबराव देशमुख सहकारी बैंक, सांगली सहकारी बैंक, रायगढ़ सहकारी बैंक, नासिक जिला गिरना सहकारी बैंक, साईबाबा जनता सहकारी बैंक, अंजनगांव सुरजी नगरी सहकारी बैंक, जयप्रकाश नारायण नगरी सहकारी बैंक और करमाला अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक शामिल हैं।

जबकि उत्तर प्रदेश में लखनऊ अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक, अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक , नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक और यूनाइटेड इंडिया कंपनी को-ऑपरेटिव बैंक के सभी Eligible depositors को अक्टूबर माह में भुगतान दिया जाएगा। इसके अलावा, कर्नाटक के श्री मल्लिकार्जुन पट्टाना सहकारी बैंक नियमिता और श्री शारदा महिला सहकारी बैंक भी इस सूची में शामिल किये गए हैं।

Home PagePM Kisan Yojanaa

Leave a Comment

close button