EPFO Update: ईपीएफओ ने बदला आदेश, अब पेंशनधारकों को फिर से मिलेगी पुरानी वाली पेंशन

EPFO Update: जानकारी के अनुसार EPFO द्वारा एमपी राज्य में 650 पेंशनधारकों की Higher Pension को बंद कर दिया गया है। अब सभी रिटायर्ड कर्मचारियों को उनके वास्तविक वेतन के हिसाब से पेंशन का लाभ दिया जायेगा। Higher Pension बंद होने के बाद से अब पेंशनर्स को पुरानी Pension का ही लाभ प्राप्त होगा। इसके चलते कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने उन सभी कर्मचारियों को भी लाभ प्रदान किया था, जिनका EPF में सैलरी के अनुसार राशि जमा नहीं हुई थी।

ऐसे कर्मचारियों ने Higher Pension के लिए अतिरिक्त राशि भी जमा कराई थी। इसके बाद पिछले कुछ समय से शहर में करीब 650 पेंशनर्स को Higher Pension के रूप में बढ़ी हुई Pension का लाभ मिल रहा था। पेंशनर्स को उनकी कैटेगरी के हिसाब से बढ़ी हुई पेंशन मिल रही थी जो कि 2 हजार रुपए से लेकर 15 हजार रुपए तक बताई जा रही है।

लेकिन हाल में ही कर्मचारी निधि भविष्य संगठन (EPFO) ने कर्मचारियों को Higher Pension देने पर रोक लगा दी है। सम्बंधित विभाग द्वारा सभी पेंशनधारकों को इस बारे में सूचना जारी कर दी गयी है। जून 2022 में कई रिटायर्ड कर्मचारियों को Higher Pension नहीं मिली, जबकि कुछ पेंशनधारकों के खाते में तो अभी तक Pension ही नहीं आई।

{EPFO Update}कर्मचारियों को फिर से मिलेगी पहले वाली पेंशन

इससे पहले रिटायर्ड कर्मचारियों को न्यूनतम 1200 और अधिकतम 2500 रुपए तक Pension मिलती थी। हायर पेंशन मिलने के बाद से 2200 रुपए तक मिलने वाली Pension बढ़कर 5500 रुपए तक हो गई थी। इसी तरह से अन्य कर्मचारियों की पेंशन में भी वृद्धि हुई थी, लेकिन Higher Pension बंद होने से सेवानिवृत कर्मचारियों को अब पुरानी पेंशन ही मिलेगी। हायर पेंशन के तहत कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) में कई कर्मचारियों द्वारा उनकी सैलरी के अंतर की राशि जमा की गयी थी।

जानकारी के अनुसार यह राशि करीब 2 लाख रुपए थी। इस स्थिति में जब हायर पेंशन पर रोक लग गई है, तो कई कर्मचारियों को उनकी जमा की गई राशि से अधिक पेंशन भी दी जा चुकी है। फिलहाल विभागीय अधिकारीयों का यह कहना है कि Higher Pension के तहत जिन कर्मचारियों को ज्यादा पेंशन दी जा चुकी है उनसे वह पेंशन वापस नहीं ली जा रही है।

कर्मचारियों से नहीं वसूली जाएगी दी गयी हायर पेंशन

अब सभी रिटायर्ड कर्मचारियों की पेंशन उनके वास्तविक वेतन के आधार पर तय की जाएगी। EPFO के विभागीय अधिकारी ने जानकारी दी है कि Higher Pension में कर्मचारियों को अंतर की राशि से भी अधिक पेंशन दी गयी थी और पेंशन की इस राशि को वसूला भी नहीं जा रहा है, लेकिन यह फैसला लिया गया है

कि अब उन कर्मचारियों को उनके वास्तविक वेतन के आधार पर ही पेंशन दी जाएगी और हायर Pension की सुविधा पर रोक लगा दी गयी है। इसके अलावा जिन कर्मचारियों की पेंशन नहीं आयी है जल्द ही उनकी पेंशन भी उनके खाते में भेजी जाएगी।

Leave a Comment