Free Solar Panel Yojana : किराए पर खेत देकर करें लाखों कमाई

Free Solar Panel Yojana: बिजली के बिल पर होने वाले अतिरिक्त खर्च को कम करने और solar panel के जरिए किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार ने Free Solar Panel Scheme शुरू की है। इसमें किसानों को अपने खेत या मकान की छत निजी कंपनियों को किराए पर देनी होगी। इसके बदले उन्हें अच्छा पैसा मिलेगा। जिससे उनकी आमदनी चौगुनी हो सकती है। इतना ही नहीं, इस योजना के तहत solar panel बिल्कुल मुफ्त लगाए जाएंगे। इससे पैदा होने वाली अधिकांश बिजली को बेचा भी जा सकता है. तो क्या है यह प्लान और कैसे बढ़ाएं अपनी कमाई, आइए जानते हैं:

क्या है Free Solar Panel Yojana?

इस योजना में किसान सोलर पैनल लगाने (install solar panels) के लिए अपने खेत का एक तिहाई भाग किराये पर ले सकते हैं। इसके बदले में निजी कंपनियां उन्हें 1 लाख रुपये प्रति एकड़ की दर से किराया देगी। इस योजना में किसान अपनी जमीन 25 साल के लिए कंपनी को किराए पर देंगे। इस दौरान कंपनी उन्हें नियमित रूप से हर साल पैसा देगी। वहीं, कंपनियां 25 साल पूरे होने पर किसानों को 4 लाख रुपये प्रति एकड़ देगी। इससे किसानों की आमदनी चौगुनी हो सकती है।

इस योजना में किसान अपनी खेती की जमीन निजी कंपनियों को किराए पर बेचकर या solar panel लगाकर और उससे पैदा होने वाली बिजली को बेचकर मुनाफा कमा सकते हैं। अगर कोई अपनी जमीन किराए पर देता है तो उसके बदले में उसे 4 लाख रुपये तक का किराया मिल सकता है. हालांकि इसके लिए कुछ शर्तों को पूरा करना होता है। योजना का लाभ:- इस योजना के तहत व्यक्ति अपनी एक तिहाई जमीन सोलर पैनल लगाने के लिए किराये पर ले सकता है। बदले में कंपनियां उन्हें एक लाख रुपये प्रति एकड़ की दर से किराया देंगी। अमूमन यह किराया 1 से 4 लाख के बीच हो सकता है। योजना का लाभ लेने के लिए कंपनी और आवेदक के बीच solar panel लगाने और किराये पर लेने का अनुबंध किया जाएगा।

आमतौर पर अनुबंध 25 साल के लिए किया जाता है। अनुबंध की अवधि पूरी होने के बाद किराया बढ़ जाएगा। सोलर पैनल लगाने का पूरा खर्च प्राइवेट कंपनी उठाएगी। इसके लिए कोई पैसा खर्च नहीं करना पड़ेगा। वहीं, सरकार निजी इस्तेमाल के लिए सोलर पैनल लगाने पर तगड़ा डिस्काउंट देती है। किसानों को एक एकड़ जमीन देने पर 1000 यूनिट मुफ्त बिजली मिलेगी। साथ ही अगर जरूरत से ज्यादा बिजली पैदा होती है तो वे उसे कंपनी या सरकार को बेच भी सकते हैं सोलर पैनल का किराया देने के अलावा आवेदक बिजली बेचकर भी कमा सकते हैं। कुसुम योजना के लिए पंजीकरण कराएं और बिजली बेचने के लिए निजी व सरकारी कंपनियों से संपर्क करें। एक मेगावाट का सोलर प्लांट स्थापित करने के लिए छह एकड़ जमीन की जरूरत होती है। इससे 13 लाख यूनिट बिजली पैदा की जा सकती है।

बिजली बेच कर भी कमा सकते हैं आप

सोलर पैनल योजना (Solar panel scheme) ऐसे किसानों के लिए भी लाभकारी है जिनकी जमीन बंजर है। वे जमीन पर solar panel लगाकर सौर ऊर्जा से बिजली पैदा कर सकते हैं और हर महीने इसे विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी बिजली कंपनियों को बेचकर पैसा कमा सकते हैं। एक मेगावाट का सोलर प्लांट 1 MW solar plant) स्थापित करने के लिए छह एकड़ जमीन की जरूरत होती है। इससे 13 लाख यूनिट बिजली पैदा की जा सकती है। इसे बेच कर किसान अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। आप प्रधानमंत्री सौर पैनल योजना (KUSUM Scheme) के तहत पंजीकरण कर लाभ उठा सकते हैं।

solar panel Yojana का लाभ

  1. solar panel scheme के तहत निजी कंपनियां किसानों को एक लाख रुपये प्रति एकड़ किराए के तौर पर देगी। वहीं, 25वें साल से एक एकड़ खेत का किराया 4 लाख रुपये होगा.
  2. किसान को सोलर पैनल लगाने ( installing solar panels) में कोई पैसा खर्च नहीं करना पड़ेगा. इसे निजी कंपनियां PPP model पर अपने खर्चे पर लागू करेंगी।
    3.सौर पैनल जमीन से 3.5 मीटर की ऊंचाई पर स्थापित किए जाएंगे। ताकि किसानों को वहां खेती करने में कोई दिक्कत न हो।
  3. किसानों को एक एकड़ जमीन देने पर 1000 यूनिट मुफ्त बिजली मिलेगी। साथ ही अगर जरूरत से ज्यादा बिजली पैदा होती है तो वे उसे कंपनी या सरकार को बेच भी सकते हैं .
PM Kusum YojanaVisit Here
PMKISANYOJANAA Home pageVisit Here

Leave a Comment