पशुपालकों के पास है Rs 5 Lac जीतने का मौका, राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार से किया जाएगा सम्मानित

Gopal Ratna Award: जैसा कि सभी जानते हैं कि देश में किसानों और पशुपालकों के लिए कई सरकारी योजनायें चलाई जाती हैं। पशुपालकों और किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा समय-समय पर कई योजनायें चलाई जाती हैं। इसी के चलते केंद्र सरकार द्वारा डेयरी किसानों को प्रोत्साहित करने हेतु Gopal Ratna Puraskar की शुरुआत की गई है। यह पुरस्कार केवल डेयरी क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले किसानों को ही प्रदान किया जाएगा।

Gopal Ratna Award के तहत डेयरी किसानों को 5 लाख रूपये तक का इनाम दिया जाएगा। इस पुरस्कार को प्राप्त करने के लिए डेयरी किसानों को ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करके ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा। उसके बाद पुरस्कार के आवंटन के लिए तय की गयी जगह पर सभी पात्र किसानों के नामों की घोषणा की जाएगी और विजेता किसान को 26 नवंबर 2022 को राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के शुभ अवसर पर इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Gopal Ratna Award

जानें कितनी होगी गोपाल रत्न पुरस्कार की धनराशि

गोपाल रत्न पुरस्कार (Gopal Ratna Award) के तहत पात्र किसानों को श्रेणीवार नगद धनराशि दी जाएगी और इसके अलावा एक प्रमाण पत्र, और स्मृति चिन्ह भी प्रदान किया जाएगा।

  • इस योजना के तहत प्रथम पुरस्कार ₹5 लाख की धनराशि है जो पशुपालकों को पुरस्कार स्वरुप दिए जायेंगे।
  • इस योजना के तहत प्रथम पुरस्कार ₹3 लाख की धनराशि है जो पशुपालकों को पुरस्कार स्वरुप दिए जायेंगे।
  • इस योजना के तहत प्रथम पुरस्कार ₹2 लाख की धनराशि है जो पशुपालकों को पुरस्कार स्वरुप दिए जायेंगे।

जानें क्या है Gopal Ratna Award के लिए आवश्यक पात्रता

  • इस स्कीम के तहत 50 नस्लों के मवेशियों और भैंसों की 17 नस्लों में से मान्यता प्राप्त देशी नस्ल को बनाए रखने वाले पात्र किसान पुरस्कार पाने के लिए आवेदन के पात्र होंगे।
  • जिन एआई तकनीशियन ने राज्य या संघ राज्य क्षेत्र पशुधन विकास बोर्ड या दूध संघों या गैर सरकारी संगठनों या किसी अन्य निजी संगठनों से कम से कम 90 दिनों का एआई प्रशिक्षण प्राप्त किया हो, वे सभी पुरस्कार के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • एक सहकारी समिति या दुग्ध उत्पादक कंपनी या किसान उत्पादक संगठन (FPO) जो ग्रामीण स्तर पर स्थापित डेयरी गतिविधियों में लगी हो और सहकारी या कंपनी अधिनियम के तहत प्रतिदिन न्यूनतम 100 लीटर दूध इकट्ठा करती है, योजना के तहत पुरस्कार के पात्र होंगे।

जानें गोपाल रत्न पुरस्कार के लिए आवेदन की अंतिम तिथि और आवेदन की पूरी प्रक्रिया

गोपाल रत्न पुरस्कार का हिस्सा बनने के लिए इच्छुक पशुपालक किसान को ऑफिसियल वेबसाइट जो इस प्रकार है https://awards.gov.in पर जाकर ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा। इस पुरस्कार के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरु हो चुकी है, और आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 सितंबर 2022 है, इसलिए सभी इच्छुक उम्मीदवार अंतिम तिथि से पहले आवेदन अवश्य कर लें।

देश भर के सभी किसान इसके लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं। सभी चयनित विजेता पशुपालक किसानों को सूचित करके 26 नवंबर 2022 को राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के शुभ अवसर पर इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इस पुरस्कार वितरण कार्यक्रम का आयोजन पशुपालन और डेयरी विभाग द्वारा निर्धारित किये गए समय और जगह पर आयोजित किया जाएगा।

Home PagePM Kisan Yojanaa

Leave a Comment

close button