Government Scheme 2022: बेटियों का भविष्य होगा उज्जवल, ऐसे पाएं 15 लाख रुपये की सरकारी सहायता

Government Scheme 2022: अब बेटियों के माता-पिता को अपनी बेटी की पढ़ाई और शादी को लेकर चिंतित रहने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार द्वारा बेटियों के लिए सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) शुरू की गयी है और इस योजना के तहत आप केवल 100 रुपये की बचत करके अपनी बेटी के लिए अच्छी खासी रकम जमा कर सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना, केंद्र सरकार द्वारा विशेष रूप से कम आमदनी वाले लोगों के लिए है जो छोटी-छोटी बचत करते हैं।

Government Scheme

अगर आपकी बेटी की उम्र 1 साल है, तो आप इस योजना के तहत बेटी के नाम से हर महीने 3 हजार रुपये निवेश कर सकते हैं और मैच्योरिटी होने पर यह राशि तकरीबन 15 लाख तक हो जाएगी। यदि आप अपनी बेटी के नाम पर 3 हजार रुपए से निवेश शुरू करते हैं, तो एक साल में आप योजना के तहत तकरीबन 36,000 रुपये तक निवेश कर सकते हैं। इस प्रकार योजना की मैच्योरिटी तक आपको अपनी बेटी के खाते में 5 लाख 40 हजार रुपये जमा करने होंगे। इस स्कीम के तहत आपको 7.6% की दर से हर साल ब्याज मिलता है।

स्कीम के तहत मिलेगा बैंक एफडी से ज्यादा रिटर्न

जानकारी के लिए बता दें कि Sukanya Samriddhi Scheme के तहत निवेशकों को 7.6% का रिटर्न दिया जाता है और यह रिटर्न बैंक एफडी से बहुत सही है। देखा जाये तो बैंक लंबी अवधि की FD पर 6% तक ही ब्याज दे रहे हैं। ऐसे में इस योजना के तहत निवेश करके आप अपनी बेटियों के 21 साल की होने पर तकरीबन 65 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं, जो उनकी आगे की पढ़ाई तथा शादी में काम आ सकते हैं। केंद्र सरकार द्वारा Sukanya Samriddhi Yojana में कुछ बदलाव भी किये गए हैं, ताकि समाज के हर वर्ग के लोग इस योजना का फायदा उठा सकें और देश की बेटियां ज्यादा से ज्यादा आत्मनिर्भर बन सकें।

योजना के तहत अब तीन बेटियों लिए भी कर पाएंगे निवेश

केंद्र सरकार ने Sukanya Samriddhi Yojana के तहत कुछ बदलाव भी किए हैं, जिसके तहत अब आप अपनी तीन बेटियों के लिए भी योजना का फायदा उठा सकते हैं। इस योजना के तहत पहले माता-पिता केवल दो बेटियों के लिए ही निवेश कर सकते थे। अब माता -पिता दो जुड़वां बेटियों और तीसरी बेटी होने पर तीनों बेटियों के नाम से खाता खुलवा सकते हैं।

Government Scheme 2022: टैक्स छूट में भी मिलेगा लाभ

इसके अलावा, इस योजना को बेहतर बनाने के लिए सरकार द्वारा 80C के तहत आयकर छूट प्रदान किया जायेगा। Sukanya Samriddhi Yojana के तहत माता -पिता एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 250 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। इसके अलावा खोले गए खाते में एक साल में न्यूनतम 250 रुपये जमा करने अनिवार्य है और अगर खाते में एक साल में न्यूनतम 250 रुपये जमा नहीं किये जाते हैं तो खाता बंद कर दिया जाता है या डिफ़ॉल्ट मान लिया जाता है। इससे पहले डिफ़ॉल्ट खाते पर ब्याज रुक जाता था, लेकिन नियमों में परिवर्तन होने के बाद से डिफॉल्ट खाते में जमा राशि पर ब्याज भी मिलेगा।

pmkisanyojanaa Home PageClick Here

Leave a Comment

close button