Karamchari News: खुशखबरी, अब कर्मचारियों को मिलेगी प्रोबेशन पीरियड की भी पूरी सैलरी

Karamchari News (Full Salary in probation period): मध्य प्रदेश सरकार ने हाल में राज्य के कर्मचारियों के प्रोबेशन अवधि के नियमों में कुछ बदलाव किये हैं। राज्य सरकार के नए नियमों के अनुसार अब कर्मचारियों को प्रोबेशन अवधि के दौरान का 100% कि पूरा वेतन प्राप्त होगा। यह नियम सभी राजकीय कर्मचारियों के लिए है। जानकारी के अनुसार, अब मध्य प्रदेश की सरकार द्वारा नई नियुक्ति वाले कर्मचारियों को प्रोबेशन अवधि के दौरान नियुक्ति तारीख से पूरा वेतन प्रदान किया जायेगा।

Karamchari News

कर्मचारियों के वेतन के मामले में तत्कालीन सरकार द्वारा बनाए गए प्रोबेशन अवधि के नियमों में परिवर्तन किया जा रहा है और नए नियमों में वर्ष 2018 के पहले के दो वर्षों की प्रोबेशन पीरियड और उस दौरान पूरा वेतन दिया जाएगा। एमपी राज्य सरकार ने सरकारी नौकरी के एक नियम में परिवर्तन करते हुए कर्मचारियों को प्रोबेशन पीरियड में भी पूरा वेतन देने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने इस बारे में बड़ा फैसला लिया है, जिसके तहत अब कर्मचारियों के लिए प्रोबेशन पीरियड के नियमों में संसोधन किया गया है।

जानें क्या होंगे पुरानी भर्ती वाले कर्मचारियों के लिए नियम

जानकारी के अनुसार, पिछले तीन वर्षों में तकरीबन 5 हजार से भी ज्यादा पदों पर भर्ती हुई है और इसके लिए वित्त विभाग द्वारा जाँच की जा रही है। जिसके तहत जो नियुक्तियां पिछले तीन वर्षो में मौजूदा नियमों के तहत हुई हैं, उन कर्मियों का वेतन नए कर्मियों की अपेक्षा कम न रह जाएं। यानी कि सीनियर और जूनियर का अंतर रहे। नियमों में बदलाव होने से पिछली भर्ती वाले कर्मियों का मामला पेचीदा हो गया है और अब इसके समाधान पर विचार किया जा रहा है।

नए नियमों के अनुसार पिछले 3 सालों में 5000 से ज्यादा पदों पर भर्ती हुई हैं, लेकिन जिस स्केल पर इन सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की नियुक्ति हुई है, उसके तहत उन्हें पूरा वेतन नहीं मिल रहा है। इसके साथ ही जिन उम्मीदवारों की नियुक्ति वर्ष 2019 में हुई है, उनकी अनुकम्पा नियुक्ति वर्ष 2023 में पूरी हो जाएगी और वर्ष 2024 से उन्हें पूरी सैलरी का लाभ मिलेगा और साथ ही सैलरी में वृद्धि का लाभ भी प्राप्त होगा।

जानें कैसे मिलगा लाभ

सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि प्रोबेशन पीरियड क्या होता है, तो प्रोबेशन पीरियड की अवधि दो वर्ष के लिए होती है। यह अवधि नियुक्ति के साथ ही शुरू हो जाती है। इसके साथ ही नियुक्ति होने के बाद जब कर्मचारी को पहले महीने से ही जो वेतन मिलता है, वह पूरा नहीं मिलता है, लेकिन कर्मचारी को पूरा वेतन प्रोबेशन अवधि पूरी होने पर ही मिलता है। राज्य सरकार के इस नियम में संसोधन के बाद से राज्य में काम कर रहे तकरीबन 5000 से अधिक कर्मचारियों को लाभ प्राप्त होगा और इसके साथ ही आगामी भर्ती के तहत आने वाले सभी कर्मचारियों को भी इसका फायदा होगा।

HOMEPAGEPMKISANOJANAA

Leave a Comment

close button