Rooftop Solar Scheme: छत पर Solar Panel लगाएं, Cooler-AC सब कुछ चलेगा, बिल आएगा जीरो

Solar Panel Rooftop Solar Scheme 2022: केंद्र सरकार (central government) ऊर्जा के परंपरागत स्रोतों के बजाय वैकल्पिक स्रोतों पर निर्भरता बढ़ाने पर लगातार जोर दे रही है। इसी क्रम में पेट्रोल-डीजल की खपत को कम करने के प्रयास किए जा रहे हैं ताकि हम तेल के आयात के लिए विदेशों पर निर्भर न रहें। सरकार सोलर एनर्जी के बेहतर इस्तेमाल पर फोकस कर रही है और इसके लिए केंद्र की ओर से सब्सिडी भी दी जा रही है। अगर आप अपने घर की छत पर सोलर पैनल ( install solar panels) लगाते हैं तो आपको 30 फीसदी की सब्सिडी दी जाएगी। साथ ही इसे घर में इस्तेमाल होने वाली बिजली के विकल्प के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

Rooftop Solar Scheme

Solar Rooftop Scheme Subsidy Installing solar panels

अपने घर की छत पर सोलर पैनल लगाने ( installing solar panels) से बिजली बिल की टेंशन भी खत्म हो जाएगी क्योंकि आम घरों में इस्तेमाल होने वाली बिजली की खपत के लिए यहां से पर्याप्त ऊर्जा मिल सकती है। केंद्र सरकार द्वारा सोलर पैनल लगाने (install solar panels) वालों को rooftop solar plants पर 30 प्रतिशत सब्सिडी दी जा रही है, जिससे आपका एक लाख का खर्च घटकर लगभग 70 हजार रुपये रह जाएगा।

घर की छत पर सोलर पैनल लगाने (installing a solar panel) का खर्चा करीब एक लाख रुपये आता है। लेकिन सब्सिडी के बाद सिर्फ 70 हजार रुपये में एक किलोवाट का solar plant लगाया जा सकेगा। कुछ राज्य केंद्र सरकार की सब्सिडी के अलावा इसके लिए अलग से सब्सिडी भी देते हैं। ऐसे में यह 70 हजार का खर्च और भी कम हो सकता है।

Rooftop Solar Scheme: 25 साल तक रहें टेंशन फ्री!

इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको राज्य सरकार के नवीकरणीय ऊर्जा प्राधिकरण (Renewable Energy Authority) के पास जाना होगा, जो सोलर पैनल (solar panels) जारी करता है। उनके कार्यालय देश के प्रमुख शहरों में स्थापित किए गए हैं और निजी डीलरों के माध्यम से solar panel उपलब्ध कराए गए हैं। यदि आप पैनल लगवाने के लिए सब्सिडी चाहते हैं तो उसका फॉर्म भी इन कार्यालयों से उपलब्ध होगा। एक बार ये solar panel घर में लग जाएं तो अगले 25 साल तक आप फ्री में बिजली चला सकते हैं।

Solar Panel Rooftop Scheme Benefits: Electricity Bill Zero

सोलर पैनल का जीवनकाल लगभग 25 वर्ष है। मतलब इतने लंबे समय तक खराबी या फेल होने की संभावना न के बराबर होती है. पैनल लगाने के बाद (installing the panels) सोलर एनर्जी के जरिए आपको बिजली मिलेगी। आपकी छत पर पैनल लग जाएगा और ऐसे में इसका रखरखाव आसान हो जाता है। इन पैनलों की क्षमता 1 किलोवाट से 5 किलोवाट तक है। इसे लगाने के बाद बिजली का बिल जीरो हो जाएगा, साथ ही आप हरित ऊर्जा का इस्तेमाल कर प्रदूषण कम करने में अपना योगदान दे सकते हैं।

PM Kusum Solar Panel Yojana : फायदे/कीमत/सब्सिडी | 60 हजार से 1 लाख रु कमाई का मौका

Cooler-AC सब काम करेगा

इस योजना की शुरुआत सरकार ने पर्यावरण संरक्षण और हरित ऊर्जा पर ध्यान केंद्रित करने के उद्देश्य से की है। सबसे अहम बात यह है कि solar panels में मेंटेनेंस कॉस्ट न के बराबर होती है। आपको हर 10 साल में एक बार बैटरी बदलनी चाहिए। इसकी बैटरी की कीमत भी लगभग 20 हजार रुपये आती है। जरूरत के हिसाब से इस solar panel को एक जगह से दूसरी जगह आसानी से ले जाया जा सकता है।

इस solar panel की बिजली से घर में ट्यूबलाइट से लेकर पंखा और फ्रिज से लेकर टीवी तक सब कुछ चल सकता है। इसके लिए 1 किलोवाट की क्षमता का एक पैनल काफी है। घर में अगर एसी चलाना है तो 2 किलोवाट के पैनल की जरूरत पड़ेगी। इस तरह के बड़े विद्युत उपकरण को चलाने की क्षमता के अनुसार अलग-अलग पैनल उपलब्ध हैं

HOMEPAGEPM KISAN YOJANAA

Leave a Comment